Shree Krishna Life Changing Quotes


परन्तु जो मनुष्य आत्मा में ही रमण करने वाला और आत्मा में ही तृप्त तथा आत्मा में ही सन्तुष्ट हो, उसके लिए कोई कर्तव्य नहीं है

 

 

Neither in this world nor elsewhere is there any happiness in store for him who always doubts.

In Hindi: सदैव संदेह करने वाले व्यक्ति के लिए प्रसन्नता ना इस लोक में  है ना ही कहीं और.

Srimadbhagwadgita  श्रीमद्भगवद्गीता